राजपुतो मे तो बहोत जबरदस्त अहम था. . . 

​सभी राजपुत  ईक होके  लड रहे थे, लडते लडते ऊनके जुते फट गये…फिर कया हुआ… राजपुतो मे तो बहोत जबरदस्त अहम था…कोई राजपुत जुते रिपेर करने को तैयार नही था…फीर कया हुआ…???? फिर ऐक दिन लडते लडते ऊनके कपडे / बकतर  फट गये.. टुट गये…फिर कया हुआ… राजपुतो मे तो बहोत जबरदस्त अहम था…कोई राजपुत कपडे रिपेर/सीलने को  तैयार नही था…फीर कया हुआ…???? फिर ऐक … Continue reading राजपुतो मे तो बहोत जबरदस्त अहम था. . . 

🌞चुडासमा राजपूत समाज धंधुका द्वारा आयोजित🌞

🙏नमस्ते🙏 🌞चुडासमा राजपूत समाज धंधुका द्वारा आयोजित🌞 👉🏼गुजरात गवर्नमेंट द्वारा लेवाती दरेक परीक्षा जेवी के GPSC, PSI, CLERK, CONSTABLE, TALATI माटे  ता-01/08/2016 थी क्लास चालू थई रह्या छे 👉अने आ क्लास राजपूत दिकरा-दिकरियु माटे ज छे 👉दिकरा नी फी -200/- दिकरीओ माटे विना मूल्ये छे जेनी क्षत्रिय समाजे ख़ास नोंध लेवी 👉एडमिशन तथा फोमॅ माटे संपर्क मो: 9909981388 9376020202 🚨👉🏼आ मेसेज ने दरेक् राजपूत ग्रुप … Continue reading 🌞चुडासमा राजपूत समाज धंधुका द्वारा आयोजित🌞

Historical Story of kallaji Rathore

श्री कल्लाजी राठौड़ का इतिहास (प्रामाणिक इतिहास के आधार पर) जन्म – राजस्थान के प्रशिद्ध लोक देवता वीरवर राठौड़ राय श्री कल्लाजी के नाम से कई भारतवासी परिचित हैं। कल्लाजी का जन्म का विक्रम संवत 1601में राजस्थान प्रान्त के मेड़ता नगरमेंहुआ था। इनके पिताजी सामियाना जागीर के राव श्री अचलसिंहजी थे। भक्तिमती मीरा बाई का जन्म भी आपके के ही कुल में हुआ था। वहकल्लाजी … Continue reading Historical Story of kallaji Rathore